क्या आपके ईमेल इनबॉक्स पर फ़ालतू की ईमेल से कब्ज़ा कर रखा है? क्या आप काम की ईमेल कहीं खो जाती हैं? क्या आप काम ईमेल समय पर देख न पाने के कारण परेशान हो चुके हैं? तो इस समस्या से छुटकारा पाने का क्या उपाय है?

बहुत से लोग अपनी आवश्यकता के हिसाब से किसी भी साइट जैसे ईबुक डाउनलोड, डिस्काउंट कूपन ऑफ़र, साइट अपडेट, न्यूज़ अपडेट, ऑफ़र अपडेट, ब्लॉग अपडेट, कम्यूनिटी, फ़ोरम आदि के फ्री न्यूज़लेटर सबस्क्राइब / Newsletter subscription कर लेते हैं, जिनका उन्हें लम्बे समय तक लाभ नहीं लेना होता है। लेकिन एक-एक करके ऐसे सब्स्क्रिपशन की संख्या बहुत अधिक हो जाती है और एक समय ऐसा आता है कि आपके इनबॉक्स इन्हीं न्यूज़लेटर्स से भरने लगता है और काम की अन्य ईमेल इनमें कहीं छुप जाती है। कभी कभी तो ऐसा भी होता है कि आप ऐसी ईमेल को जंक मार्क करना शुरु कर देते हैं और फिर भी यह आपके इनबॉक्स में आती ही रहती हैं।

Unroll.me Clean your inbox

लेकिन इस समस्या से बचने का उपाय ईमेल को जंक मार्क करना नहीं है, आपको अनचाही / फ़ालतू ईमेल से बचने के लिए उन्हें अनसब्स्क्राइब करना है। लेकिन जब ईमेल की संख्या हज़ारों में हो तो अनसब्स्क्राइब / Unsubscribe करना भी एक टेंशन लेने वाला काम है।

आइए आज मैं आपको एक ऐसी सेवा के बारे में बताता हूँ जो आपको एक साथ कई ईमेल अनसब्स्क्राइब करने की सुविधा देती है। आपको पैसे की टेंशन नहीं लेनी चाहिए क्योंकि यह सेवा बिल्कुल फ्री है। सबसे अच्छी बात है कि आप सारे ईमेल सब्स्क्रिप्शन न केवल देख सकते हैं बल्कि आप एक क्लिक में सारे फ़ालतू ईमेल सब्स्क्रिप्शन से छुटकारा भी पा सकते हैं और आपके समय की बहुत बचत होती है।

Unroll.me । फ़ालतू ईमेलों से छुटकारा


फ़ालतू ईमेल से छुटकारा पाने के लिए आप Unroll.me का प्रयोग कर सकते हैं, यह एक फ्री सेवा है। इस सेवा का प्रयोग करने के लिए आपको अपने Gmail अकाउंट की एक्सेस Unroll.me को देनी होगी और ऐसा आप एक क्लिक में कर सकते हैं। यह बिल्कुल वैसे ही है जैसे आप अन्य किसी साइट पर Gmail, Facebook या Twitter से लॉगिन करते हैं।

आप जिन सोशल मीडिया जैसी सेवाओं के न्यूज़लेटर नहीं छोड़ना चाहते हैं तो Rollup ऑप्शन का प्रयोग कर सकते हैं। इस ऑप्शन के प्रयोग से आप एक सेवा से जुड़े दिन भार आने वाली ईमेलों को एक ईमेल के रूप में पा सकते हैं। जिससे बार ईमेल पढ़ने का सर दर्द कम हो जाता है। कुछ एक परिस्थितियों में यह विकल्प समस्या भी हो सकता है इसलिए इसका प्रयोग अपनी समझदारी से करें।

Unroll.me का प्रयोग करने से आपका ईमेल साफ़-सुथरा रहता है और आपकी ज़रूरी ईमेल आपकी आँखों के सामने रहती हैं।

Unroll.me का प्रयोग


1. Unroll.me साइट खोलिए और Get Started पर क्लिक करके Sign Up कीजिए

Unroll.me signup

2. Sign Up करते समय आपको अपना Email पता भरकर सेवा शर्तें मानकर आगे बढ़ना होता है

Unroll.me Enter Email

3. अपने ईमेल खाते में लॉगिन करके Unroll.me को अपने ईमेल खाते को प्रयोग करने की अनुमति दीजिए

Unroll.me Access Email

4. आपकी अनुमति मिलते ही वह आपके इनबॉक्स की स्कैनिंग करेगा और ये बतायेगा कितने सब्सक्रिप्शन हैं

Unroll.me Scanning inbox

5. स्कैनिंग ख़त्म होते ही आप Continue to next step पर क्लिक कर दें

6. अब यह आपको सारे सब्स्क्रिप्शन / Subscription दिखायेगा

Unroll.me Rollup

7. अब आप अपनी सुविधानुसार अनसब्स्क्राइब और रोलअप / Unsubscribe and Rollup विकल्प चुन सकते हैं

यदि आप अनसब्स्क्राइब का विकल्प चुन रहे हैं तो इस काम में थोड़ा समय लगेगा। यह समय 2 मिनट या और अधिक हो सकता है।

आशा है कि आप इस सेवा का लाभ ले उठायेंगे। लेकिन फिर न्यूज़लेटर सब्क्राइब करते समय सावधानी रखें और सिर्फ़ काम के न्यूज़लेटर ही सब्स्क्राइब करें या दो ईमेल यूज़ करें और अपने काम के ईमेल सिर्फ़ एक ईमेल पर ही मँगायें।

बिना Unroll.me के Gmail में किसी न्यूज़लेटर को अनसब्स्क्राइब करना


हममें से अधिकांश लोग Gmail ही प्रयोग करते हैं यदि आपने कम न्यूज़लेटर सब्स्क्राइब किये हैं और उनमें से कुछ से मुक्ति पाना चाहते हैं तो आप यह बिना किसी सर्विस को प्रयोग किये ही कर सकते हैं।

नीचे इसके लिए एक उदाहरण चित्र दिया जा रहा है -

Gmail Email Unsubscribe Options

आपको पोस्ट पसंद आये तो अपने सोशल सर्कल में ज़रूर शेअर करें।

Keywords:

ऐडसेंस अकाउंट बनाने के बाद भी अनेक ब्लॉगर्स ऐडसेंस से सम्बंधित शब्दों का मतलब नहीं समझ पाते हैं। जिसकी वजह से वे ऐडसेंस डैशबोर्ड पर होने वाली एक्ट्विटी को नहीं समझ पाते हैं और अपनी ऐडसेंस अर्निंग को नहीं बढ़ा पाते हैं। ऐडसेंस से अच्छी कमाई करने के लिए यह बहुत ज़रूरी है कि आप ऐडसेंस अकाउंट से जुड़े एक-एक शब्द को बारीक़ी से समझें। जिससे आप ऐडसेंस से जुड़ी हर टर्मिनोलॉजी को जानकर आप ऐडसेंस से अधिक से अधिक कमाई करने की रणनीति बना सकें और ख़ुद आसान ज़रिया निकाल सकें।

Google AdSense Glossary of reports terms


AdSense report glossary

आइए ऐडसेंस रिपोर्ट में आने वाले महत्वपूर्ण शब्दों का परिचय प्राप्त करें।

#01 एस्टीमेटेड अर्निंग / Estimated Earnings

आप महीने भर (आज, कल, 7 दिन और 28 दिन) में ऐडसेंस ऐड पर होने वाले क्लिक्स से जितना कमाते हैं, गूगल द्वारा उसका सत्यापन किया जाता है और गलत क्लिक और इम्प्रेशंस से कमाई गयी आमदनी को निकाल दिया जाता है। ऐडसेंस द्वारा असत्यापित कमाई / Unverified earnings को एस्टीमेटेड अर्निंग कहा जाता है।

#02 फ़ाइनलाइज़्ड अर्निंग / Finalized Earnings

महीने के अंत में ऐडसेंस ऐड पर हुए सही क्लिक्स और इम्प्रेशंस / Verified clicks and impressions से हुई कमाई जो आपको ऐडसेंस देने के लिए निर्धारित करता है, फ़ाइनलाइज़्ड अर्निंग कहलाती है।

#03 पेज व्यू / Page view

ऐडसेंस रिपोर्ट में एक पेज जिस पर विज्ञापन लगा हो, यदि वह एक बार देखा जाये तो एक पेज व्यू होता है। भले ही उस पेज पर तीन ऐड यूनिट लगी हों।

#04 ऐड इम्प्रेशंस / Ad impressions

एक ऐड इम्प्रेशन तब माना जाता है जब एक विज्ञापन आपकी साइट पर दिखता है। गूगल ऐड विभिन्न फ़ार्मेट में होता है और हर फ़ार्मेट में दिखने वाले विज्ञापनों की संख्या अलग होगी।

#05 क्लिक / Click
एक सामान्य ऐड के लिए, जब कोई यूज़र उस पर एक क्लिक करे तो उसे एक क्लिक माना जाता है। जबकि लिंक ऐड यूनिट में दिखाई देने वाले टेक्स्ट लिंक पर क्लिक करके फिर खुलने वाले पेज पर दिखने वाले लिंक पर क्लिक करें तब एक क्लिक माना जाता है।

#06 पेज सीटीआर / Page CTR

जितने ऐड क्लिक हुए हों यदि आप उस संख्या हो पेज व्यूज़ (संख्या) से भाग दे दें तो आपको पेज क्लिक थ्रू रेट मिल जाता है।

पेज सीटीआर = क्लिक्स / पेज व्यूज़

उदा० के लिए, यदि 250 पेज व्यूज़ होने पर यदि 2 क्लिक मिलें, तो ऐड यूनिट सीटीआर 0.8% होगा।

#07 सीपीसी / CPC

एक ऐड यूनिट पर एक क्लिक होने पर आप जितना कमाते हैं उसे सीपीसी या क्लिक थ्रू रेट कहते हैं। सीपीसी विज्ञापन करने वाला निर्धारित करता है इसलिए हो सकता है कि विज्ञापन पर हुए दो क्लिक पर आपको अलग-अलग कमाई हो। कुछ विज्ञापन प्रदाता ऐड सीपीसी कम रखते हैं तो कुछ अधिक रखते हैं।

#08 सीटीआर / CTR

विज्ञापनों पर हुए क्लिक की संख्या को इम्प्रेशंस, व्यूज़ या क्वेरीज़ (की संख्या) से भाग देने पर क्लिक थ्रू रेट प्राप्त होता है।

सीटीआर = (क्लिक्स / इम्प्रेशंस, व्यूज़ या क्वेरीज़ की संख्या) * 100% 

उदा० के लिए, यदि 1000 पेज व्यूज़ पर आपको 7 क्लिक मिलते हैं तो सीटीआर 0.7% होगा।

#09 पेज आरपीएम / Page RPM

1000 पेज व्यूज़ होने पर आप जितना कमाते हैं तो उसे पेज आरपीएम कहते हैं।

पेज आरपीएम = (एस्टीमेटेड अर्निंग / पेज व्यूज़ संख्या) * 1000 

उदा० के लिए, यदि आप 25 पेज व्यूज़ होने पर $0.15 कमाते हैं तो पेज आरपीएम $6.00 होगा।

#10 ऐड के प्रकार / Ad type

गूगल विज्ञापनों के विभिन्न प्रकार होते हैं जो आपकी साइट और रिपोर्ट में दिख सकते हैं। विज्ञापनों के प्रकार हैं - टेक्स्ट, इमेज, रिच मीडिया, फ़्लैश, वीडियो, ऐनीमेटेड इमेज, ऑडियो और लिंक यूनिट।

आप ऐड यूनिट बनाते समय मनचाहा ऐड टाइप चुन सकते हैं या किसी पहले से बनी यूनिट में ऐड टाइप बदल सकते हैं।

#11 ऐड सीटीआर / Ad CTR

सामान्य विज्ञापनों के लिए, विज्ञापन क्लिक थ्रू रेट किसी ऐड पर हुए क्लिक्स की संख्या को ऐड इम्प्रेशंस से भाग देने पर प्राप्त होता है।

ऐड सीटीआर = क्लिक्स / ऐड इम्प्रेशंस

उदा० के लिए, यदि आपकी साइट पर 1000 ऐड इम्प्रेशंस हों और उस पर 5 क्लिक हुए हों तो ऐड सीटीआर 0.5% होगा।

#12 बिड टाइप / Bid type

विज्ञापन प्रदाता द्वारा जिस बिड से आपकी साइट पर लगे विज्ञापन पर आपको रुपये अदा करता है।
  • सीपीसी / CPC - Cost per click
  • सीपीएम / CPM - Cost per thousand impressions
  • एक्टिव व्यू सीपीएम / Active View CPM - Active View Cost per Thousand impressions
  • सीपीई / CPE - Cost per engagement

#13 कवरेज / Coverage

कम से कम एक ऐड दिखे उतने ऐड रिक्वेस्ट का प्रतिशत कवरेज कहलाता है। सामान्यत: कवरेज से आप पता कर सकते हैं कि कहाँ ऐडसेंस कहाँ टारगेटेड विज्ञापन नहीं दिखा पा रहा है।

कवरेज = (ऐड रिक्वेस्ट जिनसे ऐड दिखते हैं / कुल ऐड रिक्वेस्ट)*100

उदा० के लिए, यदि आपने एक पेज पर 3 ऐड यूनिट लगा रखी हैं, तो इससे 3 ऐड रिक्वेस्ट होंगी। यदि स्थिति यह हो कि दो यूनिट विज्ञापन दिखायें और एक यूनिट विज्ञापन न दिखाये तो पेज का कवरेज 66.67% होगा।

इसलिए आपको ऐडसेंस डैशबोर्ड पर कवरेज पर विशेष ध्यान रखना चाहिए।


यदि आप ऐडसेंस सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण शब्दों से परिचित होना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करके देखिए


Keywords: help with adsense, adsense help center, adsense help blog, sign up adsense, adsense glossary, adsense content, adsense ad formats, adsense program policies, contact adsense support, adsense glossary, contact adsense support, adsense content, adsense publishers, adsense filtering, adsense webinars, adsense contact number, adsense terminology

हिन्दी ब्लॉग धड़ाधड़ खुलते जा रहे हैं और उसी गति से कमाई का नज़रिया रखने वाले ब्लॉगर्स ऐडसेंस अकाउंट के लिए आवेदन कर रहे हैं। किसी के ब्लॉग पर तो ऐडसेंस तुरंत विज्ञापन दिख रहे हैं तो किसी ऐडसेंस अकाउंट महीनों से रिव्यू में पड़ा है। क्या आप उनमें से हैं जिनके ब्लॉग 48 घंटे बीत जाने के बाद भी विज्ञापन नहीं दिख रहे हैं और बनायी गयी ऐड यूनिट आइडल / Idle हो जा रही है। आइडल होने का मतलब है कि विज्ञापन यूनिट ब्लॉग में लगाने के बाद भी किसी कारण से विज्ञापन 2 दिन के बाद दिखने बंद हो गये हैं या दिख ही नहीं रहे हैं। तो आपको विशेषज्ञ सलाह की आवश्यकता है। आइए ऐडसेंस ट्रबलशूटर / AdSense Troubleshooter के बारे में जानें -

Why AdSense Ads are not showing on my site / blog


AdSense Ads are not showing

गूगल ऐडसेंस ट्रबलशूटर

Google AdSense Troubleshooter

ऐडसेंस टीम ने आपकी सहायता के लिए अनेक हेल्प ट्यूटोरियअल्स और ऐडसेंस ट्रबलशूटर की सुविधा दी हुई है। ऐडसेंस ट्रबलशूटर उन मुद्दों पर मदद करता है जहाँ आपको ऐडसेंस अकाउंट न मिल रहा हो। वह आपको साइट की उन कमियों से अवगत कराता हैं जिनमें सुधार करके आप ऐडसेंस अकाउंट प्राप्त कर सकते हैं।

ऐडसेंस विज्ञापन न दिखने के सामान्य मुद्दे

Google AdSense not showing

मेरी साइट पर -
  • विज्ञापन नहीं दिख रहे हैं
  • विज्ञापनों की भाषा गलत है
  • असम्बंधित विज्ञापन दिख रहे हैं
  • पब्लिक सर्विस विज्ञापन दिख रहे हैं
  • मैं कस्टम सर्च इंजन कोड कैसे लगाऊँ
  • मुझे कस्टम सर्च इंजन कोड में बदलाव करना है
  • कस्टम सर्च इंजन काम नहीं करता है
  • कस्टम सर्च इंजन द्वारा मेरी साइट के परिणाम नहीं दिखाये जाते है
  • कस्टम सर्च इंजन परिणाम पेज पर विज्ञापन नहीं दिख रहे हैं

यदि आपकी समस्या उपरोक्त में से एक है तो यहाँ क्लिक करके ऐडसेंस ट्रबलशूटर का प्रयोग करें। ऐडसेंस सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर प्राप्त करने के लिए ऐडसेंस फ़ोरम का भी प्रयोग कर सकते हैं।

आप जब ऐडसेंस ट्रबलशूटर प्रयोग करें तो आप अपनी सुविधानुसार विकल्पों को चुन हैं यदि आपने ऐडसेंस के लिए नया अकाउंट एप्लाई किया है और खाता मिल चुका है लेकिन विज्ञापन नहीं दिख रहे हैं तो इस स्क्रीन शॉट का प्रयोग करके ऐडसेंस टीम से सम्पर्क कर सकते हैं। आप इस सम्पर्क का प्रयोग करके ऐडसेंस सम्पर्क फ़ार्म पर पहुँच जाते हैं। जहाँ आपको अपना नाम, ईमेल, पब्लिशर आइडी, वेब पता, देश, समस्या का स्क्रीनशॉट, वेब ब्राउज़र संस्करण, ऑपरेटिंग सिस्टम संस्करण और क्या आपके विज्ञापन अन्य कम्पयूटर और ब्राउज़र पर भी नहीं दिखते यह सारी जानकारी देनी होती है।

अगर यह पोस्ट आपको उपयोगी लगे तो अपने सोशल सर्किल में ज़रूर शेअर करें और टिप्पणी करके अपनी राय दें।


Keywords: I can’t see my ads, My ads are in the wrong language, My ads are irrelevant, I’m seeing Public Service Ads, I can’t find an option to generate the search code, I want to modify the search code, My AdSense for search box does not work at all, My SiteSearch doesn’t return results, I’m not seeing ads on my search results pages

क्या आप भी उन स्मार्टफ़ोन यूज़र्स में से एक हैं जो अपने स्मार्टफ़ोन का डेटा सुरक्षित रखने के लिए पैटर्नलॉक का प्रयोग करते हैं? नार्वेनियन यूनीवर्सिटी ऑफ़ साइंस एण्ड टेक्नोलॉजी द्वारा किए गये एक अध्ययन के अनुसार स्मार्टफ़ोन पैटर्नलॉक को खोलने का अंदाज़ा बड़ी आसानी से लगाया जा सकता है। क्या आप इस बात से चौंक गये हैं कि आपका फ़ोन स्मार्टफ़ोन की सुरक्षा ख़तरे में है।

जैसा कि आप जानते हैं एंड्रायड फ़ोन पर पैटर्न लॉक लगाने के लिए आपको कम से कम 4 नोड जोड़ना आवश्यक होता है और लॉक में कुल 9 नोड होते हैं। रिसर्च करते समय यूज़र्स को 4,00,000 लॉक कॉम्बिनेशन में से अपनी पसंद का लॉक पैटर्न चुनने को कहा गया था लेकिन जो निष्कर्ष सामने आया वह चौंकाने वाला था, अधिकतर लोगों ने मिलते जुलते पैटर्न लॉक प्रयोग किए थे।

Unsafe smartphone pattern lock

रिसर्च के अनुसार 4,000 पैटर्न लॉक थे जिन्हें यूज़र्स प्रयोग कर रहे थे। 77% यूज़र्स पैटर्न लॉक के लिए अंग्रेजी के वर्ण M, N और O जैसे शब्द बनाये थे ताकि वो उसे आसानी से याद रख पायें। 44% यूज़र्स नेअपना पैटर्न लॉक फ़ोन स्क्रीन पर बायें तो ऊपर से शुरु किया था। रिसर्च के मुताबिक अधिकतर लोग स्मार्टफ़ोन पैटर्न लॉक या तो ऊपर से नीचे या फिर बायें से दायें ही बनाते हैं और लॉक के लिए 4 नोड ही प्रयोग करते हैं।

ज़्यादा मजबूत और सुरक्षित पैटर्न लॉक कैसे बनायें?

  • फ़ोन सिक्योरिटी सेटिंग में जाकर विज़ीबल पैटर्न लॉक को अनविज़ीबल कर दें, जिससे लॉक प्रयोग करते समय आस-पास के लोग आसानी से उसे न समझ सकें
  • पैटर्न लॉक बनाने के लिए चार के बजाय अधिक नोड्स के कॉम्बिनेशन प्रयोग करें और अंग्रेजी के वर्णों का प्रयोग न करें
  • पैटर्न लॉक के बनाने के लिए ऊपर बायें किनारे वाले नोड का इस्तेमाल करने बजाय दूसरे किसी नोड का प्रयोग करें


Keywords: pattern lock android, pattern lock ideas, smartphone security pattern lock, make a safe pattern lock, unsafe smartphone pattern lock

ऑनलाइन अपनी अलग पहचान बनाने के लिए आपको अपने प्रोडक्ट, सेवा या बिजनेस के लिए एक डोमेन नेम चुनना बहुत कठिन काम है। यह बहुत ज़रूरी है कि डोमेन नेम चुनते समय पूरी सावधानी बरती जाये जिससे भविष्य में आपको कभी ये न लगे कि आपने जो डोमेन नेम चुना है वह ग़लत हो गया है। डोमेन नेम को चुनना इसलिए कठिन हो जाता है कि यह आपकी साइट के विषय को ठीक प्रकार से एक या दो शब्द में समेट लेता हो।

आपका डोमेन नेम स्पष्ट, आसानी से याद होने वाला और आपकी साइट के विषय से जुड़ा हुआ होना चाहिए। लेकिन आपने डोमेन लेते समय अक्सर देखा होगा कि जो नाम आप सोच रहे हैं यदि वह सामान्य शब्दों वाला हो तो लगभग 90% तक उपलब्ध नहीं होता है। इसलिए आपको कोई ऐसा नाम रखना पड़ता है जो आपकी साइट को वही अर्थ और सामर्थ्य दे जो नाम आपके मन में पहली बार आया था।

आप बेस्ट और सही डोमेन लें इसके लिए हम पहले ही एक पोस्ट लिख चुकें हैं जिसे यहाँ पढ़ सकते हैं -
डोमेन रखने में अक्सर की जाने वाली ग़लतियाँ

Domain Name Suggestion Tool


Domain Name Suggestion Tool

इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसी ऑनलाइन सेवाओं के बारे में बतायेंगे जो आपकी साइट के लिए डोमेन नेम सुझाने में आपकी सहायता करेंगे और आप अपनी साइट / ब्लॉग के लिए एक अच्छा डोमेन ख़रीद पायेंगे।

#१ बिगरॉक डोमेन नेम सजेशन टूल । BigRock Domain Name Suggestion Tool

बिगरॉक भारत में डोमेन बेचने वाली #1 कम्पनी है। यह बहुत सस्ते दामों पर डोमेन नेम उपलब्ध कराती है। आप इसके डोमेन नेम सजेशन टूल का प्रयोग करके अपनी पसंद के कीवर्ड वाला डोमेन नेम ख़रीद सकते हैं।

#२ नेम मेश । Name Mesh

नेम मेश समानार्थी और विपरीतार्थी शब्दों को मिलाजुलाकर ऐसे बेहतरीन डोमेन नेम सुझाता है जो आपके लिए बेस्ट हो सकते हैं - आप टॉप-लेवल डोमेन, मिश्रित शब्द, एसईओ और सम्बंधित शब्दों के अनुसार डोमेन नेम का चुनाव कर सकते हैं।

बेस्ट डोमेन नेम के लिए आप दो या तीन शब्दों / कीवर्ड के बीच स्पेस देकर सर्च करें।

#३ लीन डोमेन सर्च । Lean Domain Search

लीन डोमेन सर्च बिल्कुल ही अलग और अनोखे डोमेन नेम सुझाने के लिए जाना जाता है। इसके लिए यह आपके कीवर्ड के आगे या पीछे कुछ शब्द जोड़ देता है और ऐसा डोमेन नेम आपको सुझाता है कि आपको पसंद आ जाये। अन्य डोमेन सर्च टूल की तरह यह आपके कीवर्ड पर बिना कोई शब्द जोड़े उपलब्ध डोमेन नेम भी दिखाता है।

आप इसके द्वारा बड़ी ही आसानी से पसंद के अनुसार डोमेन नेम छाँट सकते हैं। साथ ही आप सर्च परिणामों को फिर कभी दुबारा प्रयोग करने के लिए पसंद लिस्ट में भी जोड़ सकते हैं।

#४ डोमेंसबॉट । DomainsBot

डोमेंसबॉट 2004 से इस क्षेत्र में काम कर रहा है, आपके दिमाग़ में आने वाले विचार को एक डोमेन नेम के रूप में सुझा रहा है। आप उपलब्ध डोमेन नेम की सूची आसानी से देख सकते हैं। साथ ही यह आपको एक्सपायर हो चुके, जल्द ही एक्सपायर होने वाले और बेचे जा रहे प्रीमियम डोमेन की भी जानकारी देता है, जिससे आपको डोमेन लेने में बहुत मदद मिलती है। साथ ही यह आपको Whois सर्च भी दिखाता है।

डोमेंसबॉट आपको बेहतर बैंडिंग का सुझाव देने के लिए ट्विटर और फ़ेसबुक आइडी का भी आइडिया देता है। यदि आप एक आइफ़ोन यूज़र हैं तो आप इसकी ऐप इंस्टाल करके अपने फ़ोन से डोमेन सर्च कर सकते हैं।

#५ डोमेन टाइपर । Domain Typer

डोमेन टाइपर का प्रयोग बहुत सरल है, यह बहुत तेज़ है और बढ़िया विकल्प सुझाता है। आपको सिर्फ़ डोमेन का कीवर्ड टाइप करना है और यह उपलब्ध डोमेंस आपको दिखा देगा। साथ कुछ अन्य मिलते-जुलते डोमेंस भी दिखायेगा, जिससे आप सही डोमेन का चुनाव कर सकते हैं।

यदि आपकी पसंद का डोमेन उपलब्ध न हो तो आप सुझाव सूची पर नज़र दौड़ा सकते हैं और कोई दूसरा मिलता-जुलता डोमेन ले सकते हैं।

#६ बस्टअनेम । BustAName

बस्टअनेम डोमेन सर्च के लिए एकदम मस्त टूल है जो आपको शब्दों का जोड़-तोड़ करके आपके मनचाहे कीवर्ड वाले डोमेन नेम सुझाता है और आपके लिए उपलब्ध डोमेंस की एक सूची बना देता है। आप सूची से मनपसंद डोमेन को रिव्यू के लिए अलग रख सकते हैं। इस तरह आप कीवर्ड को कई तरह प्रयोग करके मनचाहे डोमेन की खोज जारी रख सकते हैं और बाद में अपना फ़ाइनल डोमेन चुन सकते हैं।

आप बेस्ट और सही डोमेन लें इसके लिए हम पहले ही एक पोस्ट लिख चुकें हैं जिसे यहाँ पढ़ सकते हैं -
डोमेन रखने में अक्सर की जाने वाली ग़लतियाँ

हम उम्मीद करते हैं कि अब आपको अपने ब्लॉग या साइट के लिए सही और बेस्ट डोमेन नेम रखने में कोई परेशानी नहीं होगी और आप ऑनलाइन दुनिया में नये आयाम हासिल करेंगे।

Keywords: domain name generator, domain name suggestion tool, domain name suggestion tool online, expired domain names, domain name suggestion wizard, domain name suggestion service, domain name suggestion engine, domain name suggestion generator, domain name suggestion generator, domain name suggestion tool online, suggest url, domain price suggestion tool, good domain name, transfer your domain name, check domains, domain finder

Vinay Prajapati

{picture#https://lh4.googleusercontent.com/-vUgjWI7F7XA/U4Ybmvuz21I/AAAAAAAAO88/rQDkwEhZq84/s400-no/profile_pics.png} एक प्रोफ़ेशनल ब्लॉगर जो सभी के साथ ब्लॉगिंग का ज्ञान बाँटता है और अपने ग्राहकों के लिए वेबसाइट और ब्लॉग भी डिज़ाइन करता है। ब्लॉगिंग और ब्लॉग डिज़ाइन में 7 वर्षों से भी अधिक समय का अनुभव है। {facebook#https://www.facebook.com/vpnazar} {twitter#https://twitter.com/vinayprajapati} {google#https://plus.com/+vinayprajapati} {pinterest#https://www.pinterest.com/vinayprajapati} {youtube#https://www.youtube.com/c/techprevue} {instagram#https://instagram.com/vinayprajapati}
Powered by Blogger.